गुरूआ में मनी लोकरत्न” उपेन्द्रनाथ वर्मा जी की101 वीं जयंती

आज 25 अगस्त 2021 दिन बुधवार को गुरूआ पंचायत सरकार भवन के सभागार में अखिल भारतीय दाॅंगी क्षत्रिय संघ गुरूआ के तत्वावधान में 11:45 बजे पूरवाहन से, युगपुरुष प्रखर समाजवादी, डाॅक्टर लोहिया जी के सच्चे हमसफ़र, बिहार लेलीन अमर शहीद जगदेव प्रसाद जी के कदम से कदम मिलाकर चलने वाले वीर जांबाज “” लोकरत्न”” उपेन्द्रनाथ वर्मा जी की101 वीं जयंती समारोह, संघ के अध्यक्ष सतेन्द्र प्रसाद दाॅंगी जी के सदारथ में भारत के संविधान के उद्देशिका को पढ़कर जयंती समारोह का शुभारंभ , “लोकरत्न” उपेन्द्रनाथ वर्मा जी के तैलचित्र पर संयुक्त रूप से माल्यार्पण करके किया गया, इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में पूर्व विधायक, जदयू के वरिष्ठ नेता रामचन्द्र प्रसाद सिंह, ने सिरकत की! इस समारोह में, अ. भा. दाॅं. क्ष. संघ के वरिष्ठ सदस्य, दाॅंगी राम लखन सिन्हा सेवा निवृत्त शिक्षक, देवरिया, डाॅक्टर कपील देव सिंह, गुरूआ, विष्णु देव सिंह पूर्व मुखिया, तरोबा, दाॅंगी जगलाल प्रसाद, टंडवा,इजीनियर दाॅंगी अमरेन्द्र कुमार पूर्व मुखिया, वाजिद चक , दाॅंगी भगवान प्रसाद, गडेरी बिगहा, राजीव कुमार (दाॅंगी स्वयं सहायता कोष के सचिव) ईटवां , दाॅंगी रजनीकांत राजु प्रखण्ड सचिव ,जलपा ,दाॅंगी राजदेव प्रसाद सिंह सेवा निवृत्त शिक्षक, दुब्बा , यदुनंदन वर्मा तरोबा, दाॅंगी राजेन्द्र प्रसाद सिंह सेवा निवृत्त शिक्षक, शेरपुर, दाॅंगी चंद्रमौली प्रसाद सेवा निवृत्त शिक्षक शेरपुर, दाॅंगी सचिच्दानंद शाही, शेरपुर, दाॅंगी कमला देवी निवर्तमान मुखिया गुरूआ, प्राध्यापिका दाॅंगी निभा कुमारी गुरूआ, आनंद कुमार दाॅंगी जिला मंत्री भाजपा गुरूआ ,मुरारी प्रसाद दाॅंगी, पूर्व मुखिया, दाॅंगीनगर गुरूआ, आशुतोष कुमार दाॅंगी ( प्रखण्ड अध्यक्ष, अतिपिछड़ा प्रकोष्ठ जदयू) ईटवां, दाॅंगी राणा अश्रुबीन आजाद, दाॅंगी रविरंजन कुमार छोटु ईटवां , बालमुकुंद प्रसाद दाॅंगी, बिरहिमा, प्रदीप कुमार दाॅंगी, बिरहिमा, चितरंजन कुमार दाॅंगी निवर्तमान सरपंच, सेसारी, दाॅंगी श्याम बिहारी सिंह पिपराही, दाॅंगी विनोद कुमार वाजिद चक, दाॅंगी रितेश कुमार पिपराही, कमलेश कुमार दाॅंगी, ईटवां, संजीव कुमार वर्मा, चंदोखरा, कृष्ण कुमार दाॅंगी, अतोपुर , रघुवीर प्रसाद दाॅंगी, अतोपुर, दाॅंगी अनिल कुमार वर्मा, पिपराही, महेश सिंह दाॅंगी, पिरवां, दाॅंगी कामेश्वर प्रसाद जिला उपाध्यक्ष ईटवां, दाॅंगी कामेश्वर प्रसाद दुब्बा, इजीनियर दाॅंगी पवन कुमार ( शिक्षक) मननबिगहा, संजीत कुमार दाॅंगी , सेसारी, शिक्षक निरंजन कुमार दाॅंगी सेसारी, दाॅंगी नथुन महतो गुरूआ, सुनिल कुमार दाॅंगी पलुहारा, नवलकिशोर सिंह दाॅंगी पलुहारा, रविन्द्र कुमार दाॅंगी बढ़हीबिगहा, सरयू प्रसाद दाॅंगी काज, नंदकिशोर प्रसाद दाॅंगी भाजपा नेता मिरचक, मुरलीधर प्रसाद देवरिया, दाॅंगी अलख देव नारायण सिंह, सुरेश प्रसाद दाॅंगी कमलेश प्रसाद दाॅंगी , दाॅंगीनगर गुरूआ , दाॅंगी प्रमोद कुमार कोयरी बिगहा,दाॅंगी विजय प्रसाद दाॅंगीनगर गुरूआ के साथ दाॅंगी संघ के सैकड़ों कार्यकर्तायों ने माल्यार्पण किया! “लोकरत्न” उपेन्द्रनाथ वर्मा जी के जयंती पर पूर्व विधायक राम चन्द्र प्रसाद सिंह जी ने कहा कि स्म. वर्मा जी हमारे अभिभावक ही नहीं बल्कि ये हमारे राजनीतिक गुरु रहे हैं. ये प्रखर समाजवादी के साथ साथ बिहार एवं भारत सरकार के मंत्री रहकर समाज एवं राष्ट्र को एक अलग पहचान दिलाई है ,ये पुजा पाठ, रस्म रिवाज अंधविश्वास, पाखंड, तिलक दहेज, के घोर विरोधी रहे थे आज के युवाओं को इन्हें रोल मॉडल के रूप में आत्मसात करके राजनीति एवं समाजिक क्षेत्र में परचम लहराने की समय की मांग है. क्योंकि इन्होंने “नवयुवक संघ” बनाकर 100 गाँव के युवाओं को सदस्य बनाने के लिए संकल्प पत्र पर खुन से हस्ताक्षर करना/अंगुठा का निशान लगाना और जमींदारी जुल्म के खिलाफ बिगुल फूंका करते थे. 1942 के भारत छोड़ो आंदोलन में इस संगठन ने मगध में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. इन्होंने जयप्रकाश जी के कहने पर “हिन्द किसान पंचायत” के माध्यम से दलित वंचित उपेक्षितों के प्रति बहुत कसकर ध्यान दिया. भागवती देवी, बिफाई दास, ईश्वर दास, बाबा सुकन दास, मुगेश्वर मंडल, केशव मुसहर., संतन लोहिया जैसे अनेक दलित को राजनीति एवं समाज की मुख्य धारा से जोड़ने का काम किये. वर्मा जी शिक्षा के प्रचार प्रसार के लिए मगध प्रमंडल में 24 हाई स्कूल,एवं 2 काॅलेज की भी स्थापना किया और उन्हें पोषित किया. इन्होंने “मूक आवाज”” नामक मासिक पत्रिका का भी संपादन एवं प्रकाशन लगातार 32 वषोॅ तक किया. स्म्. वर्मा जी 5 वार हिन्द किसान पंचायत के महामंत्री रहें, 9 बार बिहार समाजवादी दल के अध्यक्ष रहें, दो बार बिहार विधानसभा के सदस्य रहें, दो बार बिहार सरकार में मंत्री रहें, दो बार लोकसभा के सदस्य रहें, और एक बार भारत सरकार के मंत्री भी रहे, लेकिन ये कभी भी पद का अभिमान नहीं किया! ये निस्वार्थ भाव से जनता के कल्याण के लिए सदैव प्रयत्नशील रहे! ये 2009 में मुख्य मंत्री नीतिश कुमार जी के द्वारा राज्य किसान आयोग के अध्यक्ष बनाये गये एवं कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिया गया! इनकी मृत्यु 28 अगस्त 2011 को पटना के अस्पताल में हो गई.राज्य सरकार द्वारा इन्हें राजकीय सम्मान दिया गया. उनकी याद में संघ द्वारा वृक्षारोपण भी किया गया. यद्यपि ” लोक-रत्न ” उपेन्द्रनाथ वर्मा जी सशरीर हमारे बीच नहीं हैं परंतु उनका व्यक्तीत्व हमेशा हमारे समाज के लिए प्रेरणा स्रोत बने रहेगें . उनके चरणों में बहुत बहुत श्रद्धा सुमन अर्पित करते हैं,”लोकरत्न” उपेन्द्रनाथ वर्मा अमर रहें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *